गर्भावस्था के कारण ब्लड प्रेशर क्यों बढ़ जाता है ,कारण ,लक्षण, इलाज//Why does blood pressure increase due to pregnancy, causes, symptoms, treatmen

गर्भावस्था में हाई ब्लड प्रेशर High BP ( हाइपरटेंशन)

गर्भावस्था के कारण ब्लड प्रेशर क्यों बढ़ जाता है ,कारण ,लक्षण, इलाज//Why does blood pressure increase due to pregnancy, causes, symptoms, treatmen….

Pregnancy ke doran bp badne ke karan or laksha or ilaj ke bare me hum aaj ki post me janege ki aakhir kis karan se pregnancy ke doran blood pressure bad jata he,,,

 pregnancy ,pregnancy ke doran bp ku bad jata he ,pregemnt mahila

आज की पोस्ट में हम जानेंगे की गर्भावस्था के दौरान ब्लड प्रेशर क्यों बढ़ जाता है और बढ़ता हे तो उसके क्या कारण रहते हैं ,क्या लक्षण रहते हैं और उसका किस प्रकार घर पर रहे कर कंट्रोल करे। किन बातो का ध्यान रखे की ब्लड प्रेशर नहीं बड़े इन सारी चीजों के बारे में आज हम विस्तारपूर्वक जानेंगे।।।

गर्भावस्था में हाई बीपी बढ़ने के कारण, लक्षण, नुकसान ,और इलाज(Causes, symptoms, harm, and treatment of high BP in pregnancy)

गर्भावस्था के दौरान ब्लड प्रेशर बढ़ना एक आम समस्या है ,अधिकतर महिलाओं में लगभग 15 से 20% महिलाओं में यह समस्या कॉमन पाई जाती है BP बढ़ने के कुछ कारण हो सकते हैं जैसे वजन का अधिक हो जाना, वजन बढ़ने से हाइपरटेंशन का कारण बन सकता है गर्भावस्था के दौरान प्री एक्लेंपसिया(pre eclampsia) चिंता में डाल सकता है डॉक्टर का कहना है कि प्री एक्लेंपसिया के कारण गर्भवती महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर से पेशाब में प्रोटीन आना जैसी स्थिति होती है और पेरो टांगो और बांहों पर सूजन आने की इस अवस्था को प्री एक्लेंपसिया कहते हे।

गर्भावस्था के दौरान ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन होने से क्या क्या नुकसान हो सकता है(What are the disadvantages of having high blood pressure or hypertension during pregnancy?)

1 .गर्भावस्था के दौरान बीपी बढ़ने से प्लेसेंटा में रक्त पहुंचना कम हो जाता है जिससे गर्भ में पल रहे बच्चे में सही तरीके से ऑक्सीजन और सही पौष्टिक आहार प्रॉपर नहीं मिल पाता जिससे बच्चा कमजोर हो जाता है..

2 . बच्चे का जन्म के समय वजन कम रहता है,.

३. समय से पहले डिलीवरी हो जाना।

4 . कभी कबार तो प्लेसेंटा ही गर्भाशय की दीवार से अलग हो जाती है और बच्चे की मोत का कारण बन जाती हे।

5 .रक्त का थक्का नहीं बन पाना।

6 .हाइपरटेंशन से बच्चे और बच्चे की मां दोनों को जान का खतरा रहता है.

गर्भावस्था में बीपी बढ़ने का कारण नंबर 1 सबसे प्रमुख कारण वजन बढ़ना अगर कारण गर्भावस्था हे जाती बन के दौरान गर्भवती महिला का वजन बढ़ता है इस कारण से भी ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है अगर गर्भवती महिला पहली बार प्रेग्नेंट है तो भी हाइपरटेंशन या ब्लड प्रेशर बढ़ने की संभावना हो जाती है या आईवीएफ या विट्रो निषेचन जैसी तकनीक से गर्भ धारण करने से भी ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है धूम्रपान और नशीले पदार्थ का सेवन करने से भी ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है इसलिए गर्भावस्था के दौरान नशीले पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए अगर गर्भावस्था में जुड़वा बच्चे हैं तो भी ब्लड प्रेशर बढ़ने की संभावना बहुत अधिक हो जाती है इस कारण से भी बढ़ जाता है अगर गर्भवती महिला की उम्र 35 साल से अधिक है तो भी ब्लड प्रेशर बढ़ने का कारण हो सकता है अगर गर्भवती महिला पहले से ही किसी बीमारी से ग्रसित है जिसे डायबिटीज है या पहले से ही टेंशन लेती है तो भी गर्भावस्था के दौरान बढ़ जाता है अनुवांशिकी भी एक कारण हो सकता है इसके कारण भी कभी-कभी देख रहा है कि ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है

प्रेगनेंसी में हाई बीपी के लक्षण

प्रीकलैंपशिया गर्भवती महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर पेशाब में प्रोटीन आना जैसी स्थिति होती है उसे क्या कहते हैं पेरो टांगो और बांहों पर सूजन आना की स्थिति प्रिय क्लेम क्या कहलाती है के लक्षण ऐसे नहीं सिर दर्द भजन अचानक बढ़ जाना सांस लेने में दिक्कत होना पेशाब जाने में पेशाब की कमी होना उल्टी जैसा मन करना है जी मिचलाना पसलिया दर्द करना नजर कमजोर होना धुंधला दिखाई देना अधिक रोशनी से परेशानी होना यह संकेत है बीपी ब्लड प्रेशर के दौरान प्रेगनेंसी के दौरान ब्लड प्रेशर पड़ जाने के लक्षण

प्रेगनेंसी में बीपी कंट्रोल कैसे करें

सबसे पहले आपको अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो आपके डॉक्टर से सलाह लें और आपकी आशा कार्यकर्ता या आंगनबाड़ी में जो भी सिस्टर वगैरह हो उनसे आप रेगुलर आपका ब्लड प्रेशर चेक करवाएं और चार्ट बनाएं ब्लड प्रेशर का

खाना-पीना समय से लें और पौष्टिक आहार लें रोजाना व्यायाम करें किसी भी प्रकार की चिंता या स्ट्रेस तनाव इन सारी समस्याओं से दूर रहें अगर आप नशीले पदार्थ का सेवन करते हैं तो प्रेग्नेंट सी के दौरान नशीले पदार्थों का सेवन नहीं करें रोजाना पहले नमक कम मात्रा में खाएं गोपी ना पिए कॉफी ना पिए

Leave a Reply