UTI urinary tract infection मूत्र पथ का संक्रमण

आज की पोस्ट में हम जानेंगे कि यूरिन में जलन होती है तो किस कारण से होती है ओर यूरिन का कलर रेड येलो किस कारण से हो जाता है और यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन में कौन-कौन से शरीर के अंग effect होते हैं यहाँ सारी जानकारी आज की ब्लॉग पोस्ट में हम जानेंगे UTI urinary tract infection के बारे में..

UTI  ऐसा infection

हे जोकि पूरे यूरीनरी सिस्टम को इनफेक्टेड करता जैसे ब्लैडर, किडनी ,यूरेथ्रा, यूटरस इन सभी को इनफैक्ट करता है या बैक्टीरिया के बढ़ जाने के कारण होता है{ ईकोलाई } infection होने के कारण बाथरूम बार-बार आती है और रुक रुक कर बून्द- बूंद आती है और यूरीन करने में जलन होती है और जाने>उच्च रक्तचाप वाले मरीज की डाइट

किस उम्र में UTI infection होता हे 

urinary tract infection सभी उम्र के लोगो मे हो जाता है जैसे बच्चे, बूढ़े, जवान लेकिन अधिकतर देखा गया है की महिलाओं में ज्यादा होती है एक आंकड़े के अनुसार पांच में से एक महिला यूटीआई इंफेक्शन के संपर्क में होती है

UTI infection होने के कारण 

यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन होने के बहुत सारे कारण हैं कुछ कारण इस प्रकार है जैसे कॉमेंट टॉयलेट यूज करने से यूटीआई होने का चांस बहुत ज्यादा होता है गर्मी के दिनों में शरीर में अगर पानी की कमी हो जाती है तो भी UTI होने का चांस हो जाता है

प्राइवेट पार्ट की अच्छे से साफ सफाई ना होने के कारण भी यूटीआई होने के चांस बहुत ज्यादा बन जाते हैं यह समस्या अधिकतर महिलाओं में ज्यादा होती है इसलिए अच्छे से साफ सफाई रखनी चाहिए

  • जंक फूड खाने से

UTI infection का गर्मियों के मौसम में ज्यादा होने की संभवना होती है क्योंकि गर्मी के दिनों में अगर आप धूप में जाएंगे तो आप के शरीर मे पानी की कमी होने लगती है और पानी के कमी से UTI की समस्या उत्पन्न हो जाती है लेकिन UTI infection ठंडाई के दिनों में भी हो जाता है इस लिए हमें पानी पर्याप्त पीना चाहिए

पेट में गर्मी बढ़ जाने के करण भी UTI होने की संभावना हो जाती है इसलिए ठंडा गर्म पेय पदार्थ को एक साथ नही पीना चाहिए जैसे चाय, काफी,कोल्डड्रिंक सिगरेट ,धूम्रपान इन सब का प्रयोग करने से यूरिन में जलन होती है और UTI infection हो जाता है।

अधिकतर देखा गया है कि जो व्यक्ति लंबे समय से हायर एंटीबायोटिक्स और स्टेरॉइड का सेवन करते हैं उन लोगों में यह समस्या ज्यादा पाई जाती है।

UTI infection के लक्षण

यूरिन करते समय जलन होना । यूरिन का रुक रुक कर बूंद बूंद आना कभी कबार पेट में भी दर्द होने लगता है बाथरूम करते समय ताकत लगाना यूरिन में पस सेल का आना यूरिन का कलर Red , yellow हो जाना यूरिन में से स्मेल आना यह कुछ लक्षण है यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन के।

लैब टेस्ट UTI 

 हम लैब टेस्ट के द्वारा भी डायग्नोसिस कर सकते है इसके लिए 2 Test होते है एक कल्चर टेस्ट होता है ओर एक रेगुलर या रूटीन टेस्ट( URIN~ RM) होता है कल्चर टेस्ट की रिपोर्ट 2 से 3 दिन में आती है लेकिन जो यूरिन आर एम होता है उसकी रिपोर्ट आपको तुरंत या एक से डेढ़ घंटे के अंदर मिल जाती है जो कल्चर टेस्ट होता उसकी रिपोर्ट ज्यादा सही होती है कल्चर टेस्ट से आप पता कर सकते हैं कि आपके यूरिन में कितना इंफेक्शन है और कितने पस सेल्स आ रही हैं लेकिन रूटीन टेस्ट से इतना पता नहीं कर सकते।

घरेलू उपाय UTI 

 कुछ इसके मुख्य घरेलू उपाय जिसके द्वारा हम इस बीमारी को ठीक कर सकते हैं

जितना हो सकता है पानी को पीना चाहिए कम से कम एक दिन में 4 से 5 लीटर पानी को पीना चाहिए हमें। नारियल पानी के सेवन से भी यह समस्या दूर होती उसमें पोटेशियम आयोडीन एंम सोडियम की भरपूर मात्रा होने के कारण यह शरीर में ठंडाई बनाता है और पानी की कमी को दूर करता है गर्म चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए जैसे कि चाय काफी सिगरेट मिर्ची- मसाला एवं नॉनवेज का प्रयोग कम करना चाहिए इन सब के कारण भी पेट में गर्मी बढ़ जाती है और यूटीआई इंफेक्शन होता

विटामिन सी के फलो का ज़्यादा से ज्यादा सेवन करना चाहिए जैसे संतरा नींबू आंवले ओर आंवले के मुरब्बा का प्रयोग करना चाहिए

और जाने लो ब्लडप्रेशर कारण, लक्षण ओर घरेलु उपाय

Leave a Reply